यूथ अगेंस्ट रेप मुहिम: चौमू पुलिया से कलेक्ट्रेट सर्किल तक शांतिमार्च निकाल दिया जागरूकता का संदेश

 
जयपुर। हाल ही में देश के अलग-अलग हिस्सो में हुए बलात्कार और हत्या जैसे गंभीर मामलों ने देश को झकझोर कर रख दिया है। बलात्कार पीड़िताओं द्वारा कहे गए शब्द " मै जीना चाहती हूं, मुझे इंसाफ चाहिए" , हमें फिर से सुनने को ना मिले , इसके लिए देश भर से युवा प्रयास कर रहे है।

ऐसी ही एक मुहिम 23 वर्षीय युवक "पियूष मोंगा" ने 25 मई 2019 को   "यूथ अगेंस्ट रेप" के नाम से शुरू की। इस मुहिम में उनका साथ 15 से 25 वर्ष के युवा दे रहे है।  देश भर में बलात्कार और महिला उत्पीड़न के खिलाफ लोगो को जागरूक करने के लिए यह टीम प्रयासरत है।

मानवता को शर्मशार कर देने वाले ऐसे हादसों को रोकने व लोगों को इनके खिलाफ जागरूक करने के लिए इस टीम के सदस्यों और इनके सहयोगियों द्वारा जयपुर शहर में चौमू पुलिया से कलेक्ट्रेट सर्किल तक शांतिमार्च निकाला गया, जिसमें सभी लोगो के मुंह पर काली पट्टी बंधी थी , जो की मानवता के अंत का संदेश देती है।

इस टीम ने अपनी कुछ खास मांगो को लेकर कलेक्टर ऑफिस में ज्ञापन सौंपा , जिसमें नए फोरेंसिक लैब के निर्माण, राष्ट्रपति दया याचिका का अंत, बलात्कार के मामलों की जल्द सुनवाई जैसी मुख्य मांगे है। साथ ही टीम द्वारा किए जा रहे अभियान की जानकारी भी दी गई।
Previous Post Next Post